VPN क्या है? VPN प्रयोग करने के लाभ और नुकसान

इंटरनेट ने हमारे जीवन को बेहद आसान बना दिया है, इंटरनेट के माध्यम से हम किसी भी वेबसाइट का प्रयोग कर सकते हैं, बहुत सारे प्लेटफॉर्म्स का प्रयोग कर सकते है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स का प्रयोग कर सकते हैं।

जब हमारे डिवाइस में हम किसी विशेष टॉपिक को सर्च करते हैं तो जो जानकारी दी जाती है वह हमारे आईपी एड्रेस पर दी जाती है, प्रत्येक डिवाइस का अपना एक आईपी एड्रेस होता है। और उस आईपी एड्रेस पर सर्वर के माध्यम से जो भी जानकारी आप लेना चाहते हैं वह दे दी जाती है। आप अपनी डिवाइस से किन-किन वेबसाइट को सर्च करते हैं कौन-कौन से वीडियो देखते हैं इसकी समस्त जानकारी सर्वर्स को होती है, क्योंकि उनको आपका आईपी एड्रेस पता है।

इस प्रकार हमारी सुरक्षा और हमारी निजता को खतरा होता है। हमारी निजता को बनाए रखने के लिए VPN का प्रयोग किया जाता है। VPN के माध्यम से आप अपनी निजता को बनाए रख सकते हैं। जब आप VPN का उपयोग करते हैं तो कोई भी आपकी जानकारी नहीं ले पाता है। तो चलिए जानते हैं VPN क्या है? VPN प्रयोग करने के लाभ और नुकसान क्या क्या है।

VPN क्या है?

वीपीएन का पूरा नाम वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क है, वीपीएन का प्रयोग अपनी निजता को बनाए रखने के लिए किया जाता है। जब आप वीपीएन का प्रयोग करते हैं तो कोई भी आपकी निजी जानकारी के बारे में पता नहीं कर सकता, मतलब कि जब आप अपने डिवाइस में इंटरनेट का प्रयोग करते हैं तो इंटरनेट और आपके डिवाइस के बीच में VPN होता है।

मान लीजिए आप किसी रेलवे स्टेशन पर है या फिर किसी ऐसे स्थान पर है जहां पर आपको फ्री वाई फाई कनेक्शन मिलता है, आप अपने डिवाइस को उस वाईफाई से कनेक्ट कर लेते हैं। इसमें खतरा यह हो सकता है कि शायद आपके नेटवर्क को कोई हैक कर रहा हो और इससे आपकी डाटा की भी चोरी की जा सकती है। इससे हमारी सुरक्षा को भी खतरा हो सकता है, इन सभी समस्याओं के समाधान के लिए VPN का प्रयोग किया जाता है।

VPN का प्रयोग करने के लाभ क्या क्या है?

  • वीपीएन का प्रयोग करके विश्व भर में किसी एक स्थान को चुनकर वहां से आप इंटरनेट को एक्सेस कर सकते हैं।
  • बीपीएन के प्रयोग से अगर कोई वेबसाइट ब्लॉक है तो आप उस ब्लॉक वेबसाइट को अनब्लॉक कर के उसका यूज़ कर सकते हैं।
  • वीपीएन के माध्यम से आप नेट की क्वालिटी को बढ़ा सकते हैं यदि आपको पता होगा कि भारत में नेट क्वालिटी अधिकतम 480p है आप वीपीएन के माध्यम से उसे 1080pभी कर सकते हैं।

वीपीएन एप को यूज कैसे करें?

आप गूगल प्ले स्टोर में जाकर वीपीएन ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं, बहुत सारे प्रकार के वीपीएन एप आपको मिल जाएंगे कुछ फ्री है और कुछ के पैसे भी लिए जाते हैं। कुछ फ्री VPN हैं जैसे की – Windscribe VPN, TunnelBear VPN, Opera VPN.

  • इस ऐप को डाउनलोड कर कर लेते हैं आपके सामने क्विक और लोकेशन इस प्रकार के दो ऑप्शन दिखाई देंगे।
  • क्विक क्लिक करते हैं तो आपका वीपीएन कनेक्ट हो जाता है।
  • लोकेशन में आपको ऑप्शन दिखाए जाएंगे कि आप किस स्थान का सर्वर कनेक्ट करना चाहते हैं इसमें आपको टॉप सर्वर और फ्री सर्वर  का ऑप्शन दिखाया जाएगा।

 आप जिस भी लोकेशन पर क्लिक करेंगे उससे स्थान से आपके नेटवर्क को जोड़ दिया जायेगा।

VPN के नुकसान क्या है?

  • लोगो को लगता है कि VPN का उपयोग करने से आपकी डिटेल्स लीक नहीं होगी लेकिन ऐसा नहीं है VPN सर्वर के पास तो डिटेल्स रहती ही है।
  • कई बार फ्री VPN सर्विस भी आपके नेटवर्क की हैक कर सकती है।
  • जब आप VPN का उपयोग करते है तो आपको नेटवर्क स्लो मिलेगा क्योंकि आपके नेटवर्क ओर गूगल के बीच VPN आ जाता है, तो  आप जब भी VPN का प्रयोग करे तो सतर्कता से करे विशेषकर अपनी बैंक डिटेल्स देते समय ।
  • हैकर्स को VPN के माध्यम से अपनी पहचान छिपाने में मदद मिलती है जिसके कारण हैकिंग बहुत ज्यादा बढ़ रही है।
  • वीपीएन के माध्यम से बहुत सारे लोग ऐसी वेबसाइट जो ब्लॉकड हैं( सरकार की तरफ से) 

उन्हें विजिट करते हैं सरकार द्वारा ब्लॉकड बहुत सारी ऐसी वेबसाइट है जो अश्लील वेबसाइट होते हैं या फिर अपराधिक वेबसाइट होती हैं उन्हें भी लोगों के द्वारा वीपीएन के माध्यम से विजिट किया जाता है तो यह वीपीएन की बहुत बड़ी हानि है।

क्या भारत में VPN को गैरकानूनी घोषित किया जाएगा?

गृह मामलों पर संसद की स्टैंडिंग कमिटी ने भारत में वीपीएन सर्विस पर पाबंदी लगाने को कहा है क्योंकि इससे साइबर सुरक्षा को खतरा है , VPN की मदद से अपराधी गुमनाम तौर पर ऑनलाइन रहते हैं और गुमनाम तौर पर ऑनलाइन रहते हुए डाटा इंक्रिप्ट कर लेते हैं और वीपीएन का प्रयोग करने से उनकी जानकारी भी सरकार को और इंटरनेट प्रोवाइडर सर्वर को नहीं मिल पाती।

संसदीय समिति के अनुसार डार्क वेब ओर वीपीएन जैसी सेवाएं भारत में गैर कानूनी घोषित होनी चाहिए क्योंकि यह बिल्कुल भी सही नहीं है। 10 अगस्त 2021 को यह रिपोर्ट राज्यसभा में सबमिट की गई और कहा गया कि स्टेट ऑफ आर्ट टेक्नोलॉजी के माध्यम से वीपीएन और डार्क वेब को भारत में गैर कानूनी घोषित कर देना चाहिए।

निष्कर्ष – VPN क्या है

अगर आप VPN का उपयोग करना चाहते हैं या आप  वीपीएन का प्रयोग कर रहे हैं तो इसका प्रयोग सतर्कता से करें क्योंकि ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि वीपीएन के माध्यम से आप अपनी गोपनीयता को बनाए रख सकते हैं। इसके माध्यम से भी आप के निजता को खतरा हो सकता है।

आशा करते है कि यह पोस्ट आप के लिए मददगार रहा होगा। और आशा है कि अब आप VPN क्या है? VPN प्रयोग करने के लाभ और नुकसान क्या क्या है? जान गए होंगे। हम आपके सुझावों और योगदान की सराहना करते हैं। अपनी सुझाव देने के लिए नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमें जरूर बताइये। शुक्रिया!

FAQs

कौन-कौन से देशों में VPN गेरकानूनी है?

चाइना, रूस ,बेलारूस ,नॉर्थ कोरिया, तुर्कमेनिस्तान युगांडा, इराक, तुर्की, संयुक्त अरब अमीरात ,और ओमान में वीपीएन का प्रयोग करना गैरकानूनी क्रिया है।

बेस्ट वीपीएन एप कौन से हैं

एक्सप्रेस VPN, साइबर VPN ,आईपी वेनिस VPN प्राइवेट इंटरनेट एक्सेस VPN, प्राइवेट VPN।

फ्री VPN ऐप कौन से हैं?

प्रोटोन फ्री VPN, हॉटस्पॉट शिल्ड फ्री VPN, Windscribe फ्री VPN,टनलबेयर फ्री VPN, स्पीडिफाई फ्री VPN, हाइड मी फ्री VPN।

Leave a Comment