वीजा क्या है? वीजा की जानकारी, वीजा कैसे मिलता है या वीजा अप्लाई कैसे करे? जानिए विस्तृत से

असल में VISA या वीजा क्या है? वीजा की जानकारी और वीजा कैसे मिलता है? क्या आप ये सब जानना चाहते हैं? इस पोस्ट में हम वीजा से जुड़े प्रत्येक जानकारी बताए हुए हैं। तो जानने के लिए आप इस पोस्ट वीजा क्या है? वीजा की जानकारी, और वीजा अप्लाई कैसे करे? को आखिरी तक जरूर पढ़ें। 

विदेश यात्रा करते समय, जो एक सबसे जरूरी चीज होता है यावी है VISA या वीजा। यदि आपके पास वीजा नहीं है, तो आप अपने यात्रा गंतव्य में प्रवेश करने में सक्षम नहीं होंगे।

वीजा की जानकारी हिंदी में

आइये जानते है वीजा की पूरी जानकारी हिंदी में – 

वीजा क्या है?

वीजा क्या है? वीजा की जानकारी Image

वीजा क्या है? VISA का पूरा नाम है Visitors International Stay Admission एक देश की व्यक्ति को दूसरे देश में प्रवेश करने के लिए एक वैध दस्तावेज की जरूरत है जिससे उस व्यक्ति का असली परिचय, और विदेश यात्रा के वजह, किस देश की नागरिक और उस देश में प्रवेश की अनुमति यह सब जानकारी सठिक रूप से मिल सके। और यह सब जानकारी उस व्यक्ति के वीजा से ही पता चलता है।

यह एक दस्तावेज है जो प्रमाणित करता है कि पासपोर्ट वैध है और देश के लिए अपने नागरिकों के अलावा अन्य देश में प्रवेश करना सुरक्षित है। वीज़ा सभी को जारी नहीं किया जाता है, और यदि आप पृष्ठभूमि की जाँच से अयोग्य हैं, जैसे कि आपराधिक रिकॉर्ड वाला कोई व्यक्ति, तो प्रवेश की अनुमति नहीं है।

अपने गंतव्य के आधार पर, आपको अल्पावधि प्रवास जैसे दर्शनीय स्थलों की यात्रा के लिए भी वीजा जारी करने की आवश्यकता हो सकती है। यदि आपने वीजा जारी नहीं किया है, भले ही आप अपने गंतव्य के लिए उड़ान भरते हों, आप प्रवेश परमिट प्राप्त करने में सक्षम नहीं होंगे और आपको आपका देश वापस लौटना होगा।

ऐसे कई देश हैं जहां आप छोटी यात्राओं के लिए बिना वीजा के प्रवेश कर सकते हैं। विदेश मंत्रालय के अनुसार, दिसंबर 2020 तक 68 देश और क्षेत्र ऐसे हैं जहां बिना वीजा के भी प्रवेश कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें- पासपोर्ट की फीस कितनी है?

वीजा कितने प्रकार के होते हैं?

वीजा मुख्यतः 2 प्रकार के होते हैं:

  1. प्रवशी वीजा– अगर आप किसी दूसरे देश में स्थायी रूप से रहना चाहते हैं तरौ आपको प्रवशी वीजा की जरूरत पड़ेगी। यह दूसरे देश में रहने की अनुमति है। 
  2. अप्रवासी वीजा– किसी काम के उद्देश्य से या पर्यटन के उद्देश्य से या विदेश में पढ़ाई करने के लिए अप्रवासी वीजा का आवश्यक होती है। यह वीजा स्थाई नहीं होती और वैध तारिक के बाद यह वीजा अवैध हो जाता है। 

इन दो प्रकार के वीजा में जो प्रकार होते हैं वो निम्नलिखित हैं:

पर्यटन वीज़ा

दर्शनीय स्थलों की यात्रा के लिए विदेश यात्रा के लिए प्रस्थान करते समय एक पर्यटक वीजा प्राप्त किया जाना चाहिए। इस प्रकार के वीजा 30 दिन या 60 दिन का हो सकता है। 

वर्क वीजा (बिजनेस वीजा)

विदेश में काम करने के उद्देश्य से विदेश यात्रा करते समय इस प्रकार का वीजा का मांग किया जाता है। इस प्रकार के वीजा का समय सीमा 1 साल तक होती है और 5 साल तक भी बढ़ाया जा सकता है सही समय पर आवेदन करके। 

अधिग्रहण की शर्तों और अधिग्रहण के तरीकों के लिए अपने गंतव्य देश के दूतावास या वाणिज्य दूतावास से संपर्क करें।

वर्किंग हॉलिडे वीजा

यह एक खास प्रजार का वीजा हैयदि आपको वर्किंग हॉलिडे वीज़ा मिलता है, तो आपको अपने प्रवास की अवधि के लिए यात्रा करने, कोई दूसरा देश में पढ़ाई करने और अपने प्रवास को कवर करने के लिए काम करने की अनुमति मिलेगी। ठहरने की अवधि और रोजगार और स्कूल की शर्तें गंतव्य के देश के आधार पर भिन्न होती हैं।

छात्र वीजा

विदेश में अध्ययन करने के लिए विदेश यात्रा करते समय किसी भी देश के पासपोर्ट धारकों द्वारा छात्र वीजा प्राप्त किया जाता है।

विदेश में अल्पकालिक अध्ययन के लिए, छात्र वीजा प्राप्त करने से छूट उसी तरह लागू की जा सकती है जैसे पर्यटक वीजा।

वीजा कैसे मिलता है या वीजा अप्लाई कैसे करे?

आप अपने गंतव्य के दूतावास या वाणिज्य दूतावास में वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं। कुछ देशों में, आप ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। यदि आप किसी ऐसे देश की यात्रा कर रहे हैं जहां आगमन वीजा उपलब्ध है, तो वीजा स्थानीय हवाई अड्डे पर जारी किया जाता है। 

आवेदन दस्तावेज मूल रूप से एक आवेदन पत्र, एक पासपोर्ट, पासपोर्ट के लिए एक फोटो और एक शुल्क है। कुछ देशों में, आवेदन पत्र ऑनलाइन डाउनलोड किया जा सकता है। देश और वीज़ा प्रकार के आधार पर, अतिरिक्त दस्तावेज़ जैसे पुलिस प्रमाणपत्र और वित्तीय प्रमाणपत्र की आवश्यकता हो सकती है। वीजा जारी करने का शुल्क देश और वीजा के प्रकार पर भी निर्भर करता है। ऑनलाइन आवेदन के लिए, भुगतान के लिए क्रेडिट कार्ड होना सुविधाजनक होता है।

वीजा के लिए क्या डॉक्यूमेंट चाहिए?

  1. करंट पासपोर्ट और इसी के साथ ओल्ड पासपोर्ट्स (अगर हो तो)
  2. एक पासपोर्ट साइज़ फोटो
  3. वीसा पेमेंट रसीद
  4. नियुक्ति पत्र या यात्रा का कारण और उसका प्रमाणपत्र

वीज़ा प्राप्त करने के लिए आवश्यक दिनों की संख्या

वीजा प्राप्त करने में लगने वाला समय जारी करने वाले देश और संबंधित वाणिज्य दूतावास के आधार पर भिन्न होता है।

इसमें जल्द से जल्द 2 से 3 दिन लगते हैं और समय लगने में लगभग 1 महीने का समय लगता है, इसलिए आवेदन 1 से 3 महीने पहले पूरा करना चाहिए ताकि आपकी तय किए गए समय से पहले वीजा प्राप्त कर सकें। 

वीज़ा वैधता गणना और वैधता अवधि

वैध वीज़ा की संख्या और अवधि आपके द्वारा जारी किए जा रहे वीज़ा के प्रकार पर निर्भर करती है। हालांकि, कुछ देशों में एक विदेशी के वीजा के मामले में, एक सामान्य नियम के रूप में, यह केवल एक प्रविष्टि के लिए वैध है, और वैधता अवधि जारी होने के दिन से 3 महीने है, और अन्य देशों के वीजा के समान नियम हैं। अक्सर होते हैं। यह एक ऐसा पॉइंट  है जो देश और वीज़ा के प्रकार के आधार पर बहुत भिन्न होता है, इसलिए इसे पहले से सावधानीपूर्वक जांचना सुनिश्चित करें।

और यदि आपका वीजा समाप्त हो जाता है या समाप्त हो जाता है, तो आप देश में प्रवेश नहीं कर पाएंगे।

प्रमुख देश जिन्हें वीजा की आवश्यकता होती है

यहां, हम उन प्रमुख देशों का परिचय देंगे जिन्हें क्षेत्र के अनुसार यात्रा करने के लिए वीजा की आवश्यकता होती है।

इसमें वे देश शामिल नहीं हैं जहां आप आगमन वीजा (एक वीजा जो हवाई अड्डे या बंदरगाह पर पहुंचने के बाद प्राप्त किया जा सकता है) के साथ प्रवेश कर सकते हैं।

वर्तमान कोविड महामारी स्थिति के कारण प्रत्येक देश की प्रतिक्रिया परिवर्तन भी हो सकता है।

एशिया

उत्तर कोरिया, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, भूटान और तुर्कमेनिस्तान की यात्रा करते समय वीजा जारी किया जाना चाहिए।

भारत, आदि के मामले में, अग्रिम रूप से आवेदन करना बुनियादी है, लेकिन केवल पर्यटन और व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए, हमने आगमन वीज़ा अपनाया है जो साइट पर आगमन पर जारी किया जा सकता है।

भारतीय आगमन वीज़ा के मामले में, वीज़ा जारी किया जा सकता है यदि “एक व्यक्ति जिसके पास 60 दिनों या उससे कम के प्रवास के साथ पासपोर्ट है और 6 महीने या उससे अधिक की वैधता अवधि है। 

मध्य पूर्व

इराक, सीरिया, सऊदी अरब और यमन में वीजा लागू होते हैं।

मध्य पूर्व में आप्रवासन सख्त हो जाता है क्योंकि संघर्ष और गृहयुद्ध वाले कई क्षेत्र हैं। कुछ देशों में, विदेश मंत्रालय ने निकासी अनुशंसाओं की घोषणा की है, इसलिए यात्रा करने से पहले सुरक्षा के लिए विदेशी सुरक्षा वेबसाइट जरूर जांच कर लेना चाहिए।

अफ्रीका

अल्जीरिया, मध्य अफ्रीका, कोटे डी आइवर, आदि को जाने के लिए भी वीजा का मांग किया जाता है।

कुछ देशों ने आगमन वीजा की शुरुआत की है, लेकिन एक जोखिम है कि राजनीतिक स्थिति में बदलाव के कारण उन्हें रोक दिया जाएगा।

रूस

रूस एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है और अगर आप पर्यटन उद्देश्यों से रूस जाना चाहते हैणन तो आपको पर्यटन वीजा की आवश्यक पड़ेगी। एक पर्यटन वीजा 30 दिनों के लिए वैध होता है और सिंगल या डबल एंट्री के लिए जारी किया जा सकता है। 

अमेरिका

संयुक्त राज्य अमेरिका वीजा और पासपोर्ट के मामले में काफी शक्त होता है और बिना वीजा के आप अमेरिका में प्रवेश नहीं कर सकते। और आपको  संदिग्ध के हिसाब से पुच ताछ भी किया जा सकता है। 

पासपोर्ट और वीजा में अंतर क्या है? 

पासपोर्ट और वीजा में अंतर क्या है

विदेश यात्रा के लिए पासपोर्ट और वीजा की आवश्यकता हो सकती है।

सबसे पहले, आइए पासपोर्ट और वीजा के बीच अंतर क्या क्या है जानते हैं:

पासपोर्ट (Passport)

पासपोर्ट प्रत्येक देश की सरकार द्वारा जारी किया जाता है और विदेशी यात्रियों के लिए अपनी राष्ट्रीयता और पहचान साबित करने के लिए आवश्यक पासपोर्ट होता है। यदि आपके पास पासपोर्ट नहीं है, तो आप किसी भी देश से बाहर नहीं जा सकेंगे या वीजा के लिए आवेदन नहीं कर सकेंगे।

पासपोर्ट दो प्रकार के होते हैं, एक 5 साल की वैधता अवधि के साथ और दूसरा 10 साल की वैधता अवधि के साथ।

अगर आपको पासपोर्ट की जानकारी विस्तार में चाहिए तो आप हमारा ये पोस्ट पढ़िए।

वीजा (Visa)

वीजा आपके गंतव्य देश में प्रवेश परमिट के रूप में कार्य करता है।

हालांकि, सभी देशों में वीजा की आवश्यकता नहीं होती है, और कोई भी देश जिसका  के साथ एक समझौता है, जिसे देश में प्रवेश करने के लिए वीजा की आवश्यकता नहीं है, वह सिर्फ पासपोर्ट के साथ भी देश में प्रवेश कर सकता है।

अल्पावधि प्रवास के लिए वीज़ा-मुक्त देशों और क्षेत्रों को विदेश मंत्रालय की वेबसाइट पर पाया जा सकता है।

सभी देशों के लिए वीजा फीस लिस्ट

क्र०सं० देश फीस (डॉलर में)
1. अल्बानिया 50
2. अंडोरा 50
3. अंगोला 50
4. एंगुइला 50
5. एंटीगुआ और बारबूडा 50
6. अर्जेंटीना 00
7. आर्मीनिया 50
8. अरूबा 50
9. ऑस्ट्रेलिया 50
10. ऑस्ट्रिया 50
11. आज़रबाइजान 50
12. बहामा 50
13. बारबाडोस 50
14. बेल्जियम 50
15. बेलीज 50
16. बोलीविया 50
17. बोस्निया और हर्जेगोविना 50
18. बोत्सवाना 50
19. ब्राज़िल 50
20. ब्रुनेई 50
21. बुल्गारिया 50
22. बुस्र्न्दी 50
23. कंबोडिया 50
24. कैमरून गणराज्य 50
25. कनाडा 50
26. केप वर्दे 50
27. केमैन द्वीप 50
28. चिली 50
29. चीन 50
30. चीन- सर हांगकांग 50
31. चीन – मकाऊ 50
32. कोलम्बिया 50
33. कोमोरोस 50
34. कुक द्वीपसमूह 00
35. कोस्टा रिका 50
36. क्रोएशिया 50
37. क्यूबा 50
38. साइप्रस 50
39. चेक गणतंत्र 50
40. डेनमार्क 50
41. जिबूती 50
42. डोमिनिका 50
43. डोमिनिकन गणराज्य 50
44. पूर्वी तिमोर 50
45. इक्वेडोर 50
46. एल साल्वाडोर 50
47. इरिट्रिया 00
48. एस्तोनिया 50
49. फ़िजी 50
50. फिनलैंड 50
51. फ्रांस 50
52. गैबॉन 50
53. गाम्बिया 50
54. जॉर्जिया 50
55. जर्मनी 50
56. घाना 50
57. यूनान 50
58. ग्रेनेडा 50
59. ग्वाटेमाला 50
60. गिन्नी 50
61. गुयाना 50
62. हैती 50
63. वेटिकन सिटी – होली सी 50
64. होंडुरस 50
65. हंगरी 50
66. आइसलैंड 50
67. इंडोनेशिया 50
68. आयरलैंड 50
69. इजराइल 50
70. इटली 50
71. कोटे डी आइवर 50
72. जमैका 50
73. जापान 50
74. जॉर्डन 50
75. केन्या 00
76. किरिबाती 50
77. कोरिया गणराज्य 50
78. लाओस 50
79. लातविया 50
80. लिसोटो 50
81. लाइबेरिया 50
82. लिकटेंस्टीन 50
83. लिथुआनिया 50
84. लक्समबर्ग 50
85. मेडागास्कर 50
86. मलावी 50
87. मलेशिया 50
88. माली 00
89. माल्टा 50
90. मार्शल द्वीप समूह 50
91. मॉरीशस 50
92. मेक्सिको 50
93. माइक्रोनेशिया 50
94. मोलदोवा 50
95. मोनाको 50
96. मंगोलिया 50
97. मोंटेनेग्रो 50
98. मोंटेसेराट 50
99. मोजाम्बिक 50
100. म्यांमार 50
101. नामीबिया 50
102. नाउरू 50
103. नीदरलैंड 50
104. न्यूजीलैंड 50
105. निकारागुआ 50
106. नाइजर गणराज्य 50
107. नियू द्वीप 50
108. नॉर्वे 50
109. ओमान 50
110. पलाऊ 50
111. फिलिस्तीन 50
112. पनामा 50
113. पापुआ न्यू गिनी 50
114. परागुआ 50
115. पेरू 50
116. फिलीपींस 00
117. पोलैंड 50
118. पुर्तगाल 50
119. मैसेडोनिया 50
120. रोमानिया 50
121. रूस 50
122. रवांडा 50
123. सेंट लूसिया 50
124. संत विंसेंट अँड थे ग्रेनडीनेस 50
125. समोआ 50
126. सैन मैरीनो 50
127. सेनेगल 50
128. सर्बिया 50
129. सेशेल्स 00
130. सियरा लिओन 50
131. सिंगापुर 50
132. स्लोवाकिया 50
133. स्लोवेनिया 50
134. सोलोमन इस्लैंडस 50
135. दक्षिण अफ्रीका 50
136. स्पेन 50
137. श्री लंका 50
138. सेंट क्रिस्टोफर और नेविस 50
139. सूरीनाम 50
140. स्वाजीलैंड 50
141. स्वीडन 50
142. स्विट्जरलैंड 50
143. ताइवान 50
144. तजाकिस्तान 50
145. तंजानिया 50
146. थाईलैंड 50
147. टोंगा 50
148. त्रिनिदाद और टोबैगो 50
149. तुर्क और कैकोस इस्ल 50
150. तुवालु 50
151. यूक्रेन 50
152. संयुक्त अरब अमीरात 50
153. यूनाइटेड किंगडम 50
154. संयुक्त राज्य अमरीका 50
155. उरुग्वे 50
156. उज़्बेकिस्तान 50
157. वानुअतु 00
158. वेनेजुएला 50
159. वियतनाम 50
160. जाम्बिया 50
161. जिम्बाब्वे 50

FAQ’s

वीजा की जानकारी – निष्कर्ष

वीजा आवेदन के समय ये ध्यान में रखें की हमेशा धार्य तारिक के 2-3 महीने या उससे भी पहले वीजा आवेदन करें ताकि सही समय पर वीजा प्राप्त कर सकें और सही समय पर विदेश यात्रा कर सकें।

उम्मीद करते हमारा ये पोस्ट वीजा क्या है? वीजा की जानकारी, और वीजा अप्लाई कैसे करे? आपको पसंद आया होगा। आपके मन में कोई प्रश्न है या हमारे लिए कोई सुझाव है तो पोस्ट के नीचे कमेंट्स करके जरूर बताएं और पोस्ट को शेयर जरूर करें धन्यवाद। 

Leave a Comment