शेयर मार्केट क्या है और शेयर कैसे खरीदते है? शेयर मार्किट की पूरी जानकारी हिंदी में

कहा जाता है जिसको पैसे से पैसे बनाना आता है वो ही अमीर बनता है। ज्यादा पैसे बनाना किसको नही पसंद है।  तो पैसे से पैसे कैसे बनाया जा सकता है? इसका उत्तर है पैसे को शेयर करके उससे पैसे कमाना। आपके मन में प्रश्न उठ रहा होगा की पैसे को कहां पर शेयर करके पैसा कमाया जाता है? इसका उत्तर है Share Market। 

नमस्कार दोस्तों, Thehindisagar में आप सभी का स्वागत है, क्या आप को जान ना है “शेयर मार्केट क्या है और शेयर कैसे खरीदते है?” अगर हाँ तो ये पोस्ट आज हम आप क लिए लाये है। ताकि आप को शेयर मार्किट की पूरी जानकारी हिंदी में मिले |

शेयर मार्केट के वारे मैं आप को अगर कुछ पता नही है तो आइए जानते हैं शेयर मार्केट क्या है और शेयर कैसे खरीदते है?

Table of Contents

शेयर मार्केट क्या है? What is Share Market in Hindi

शेयर मार्केट क्या होता है समझने से पहले आपको समझना होगा की शेयर (Share) असल में होता क्या है। 

शेयर क्या होता है?

शेयर का मतलब होता है हिस्सा। किसी कंपनी को अगर खुद को आगे बढ़ाना चाहता हो,खुद की समृद्धि करना चाहता है और उसके लिए बहत सारे पैसे की जरूरत हो तो वो कंपनी अपनी अपनी कुछ मालिकाना का हिस्सा दूसरों को बेच देती है। और उसे बेच कर जो पैसे मिलता है उसे कंपनी अपनी Development में लगती है। 

मान लीजिए की आप एक Mobile कंपनी बनाना चाहते हैं और अपनी जीवन की सारी पूंजी लगा कर एक कंपनी बना भी दिया पर उस कंपनी को चलाने में या उस कंपनी को थोड़ी विकाश और देने मैं आपके पास और पूंजी नही है तो आप अपनी अपनी कंपनी का थोड़ा सा मालिकाना का हिस्सा कोई दूसरा आदमी को बेच देंगे 10% या 20%। तो जो 10–20% बेच के जो पैसा मिलेगा उसे आप अपनी कंपनी की विकाश में लगाएंगे।

जब कोई कंपनी अपनी शेयर बेचता है तो जितनी प्रतिशत का हिस्सा बेचता है उतनी प्रतिशत का मालिकाना वो खो देता है। और वो शेयर खरीदने वाला आदमी उतने प्रतिशत का मालिक बन जाता है। 

तो किसी कंपनी का सबसे ज्यादा शेयर जिसका होगा वो ही कंपनी का मालिक कहलाएगा। 

कंपनी का शेयर क्या होता है ये अब तो समझ ही गए होंगे, अब जानते हैं शेयर मार्केट क्या है?

शेयर मार्केट क्या है?

शेयर मार्केट (Share Market) वह जगह है जहां बहत सारी कंपनी की शेयर की खरीद और बिक्री होती है। वहां पर बहत सारी कंपनी अपनी शेयर बेचते हैं। शेयर खरीदकर आप कंपनी में पैसा लगा रहे हैं। जैसे-जैसे कंपनी बढ़ेगी, आपके शेयर की कीमत भी बढ़ेगी। जब उस कंपनी का शेयर उच्च दाम में बढ़ जायेगा तो उस शेयर को किसी और को वो उच्च दाम पर बेच कर अच्छा खासा मुनाफा भी कमा सकते हैं। 

मान लीजिए की आप MRF कंपनी का एक शेयर 2000 रुपए में खरीदा था और वो कंपनी बाजार में अच्छा भाव में रहा और कंपनी की बहत मुनाफा रहा तो उस कंपनी की शेयर का दाम भी उच्च हो जायेगा। तो जो शेयर आप 2000 रुपए में खरीदा था उस शेयर का दाम उससे कई गुना ज्यादा बढ़ गया तो उस समय आप अपनी शेयर बेच कर उतने गुना का मुनाफा कमा सकते हैं। 

शेयर में आपको मुनाफा होगा या नुकसान वो कंपनी की बाजार में भाव के ऊपर निर्भर करता है। कंपनी का अगर मुनाफा होगा तो शेयर में मुनाफा होगा और कंपनी का नुकसान होगा तो शेयर में भी नुकसान होगा। 

तो हमेशा ऐसे कंपनी में पैसा लगाएं जिसमे मुनाफा होने का संभावना होगा वरना आपकी पैसा जरूर डूबेगा। 

शेयर मार्केट में निवेश करने से आप अपने सपनों को पूरा कर सकते हैं जैसे उच्च शिक्षा, कार खरीदना, घर बनाना आदि। यदि आप कम उम्र में निवेश करना शुरू करते हैं और लंबे समय तक निवेशित रहते हैं, तो रिटर्न की दर अधिक होगी।  जिस समय आपको पैसे की जरूरत है, उसके आधार पर आप अपनी निवेश रणनीति की योजना बना सकते हैं।

बड़े बड़े कंपनी शेयर क्यों बेचते हैं?

बड़े बड़े कंपनी में भी कंपनी चलाने के लिए बहत सारी पैसों का जरूरत होता है जिसे वो कंपनी खुद नही जुटा पाती। इस लिए वो अपने शेयर लोगों को बेच देता है और उसमे से जो पैसे मिलता है उसमे अपनी Development में लगाता है। और बदले मैं जो मुनाफा मिलता है वो अपने Share Holder में जिसके जितना प्रतिशत शेयर है उस हिसाब से पैसे बांट देता है। 

जब कोई कंपनी अपना शेयर निवेशकों में बेचने के लिए सूचीबद्ध करता है उस प्रक्रिया को IPO (Initial Public Offer) कहते हैं। 

शेयर की ख़रीदारी कहां पर होता है?

भारत के दो प्रमुख जगह है जिसमे शेयर का खरीदारी होता है।

एक है NSE (National Stock Exchange) और दूसरा है BSE (Bombay Stock Exchange)।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज क्या है? NSE Kya Hai

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पहला स्टॉक एक्सचेंज है जो सभी निवेशकों को इक्विटी, डेरिवेटिव्स और डेट इंस्ट्रूमेंट्स को सपोर्ट करने वाले एक ही छत के नीचे सफलतापूर्वक एकीकृत किया। यह उपलब्धि इसलिए संभव हुई क्योंकि यह भारत का पहला स्टॉक एक्सचेंज था, जो इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग सुविधाएं प्रदान करता था।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज क्या है? BSE Kya Hai

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज एक फ्री Free Floating Market-Weighted Index है जो शीर्ष 30 कंपनियों के प्रदर्शन को ट्रैक करता है। बीएसई (BSE) शेयर बाजार इन कंपनियों के प्रदर्शन की निगरानी के लिए सेंसेक्स का उपयोग करता है, ताकि यह निर्धारित किया जा सके कि इन कंपनियों के शेयर की कीमतों की गति की दिशा के आधार पर भारत का पूंजी बाजार बढ़ने वाला है या गिरने वाला है।

इन दोनो को SEBI (Securities And Exchange Board Of India) नियंत्रण करता है।

सेंसेक्स क्या है? (Sensex)

सेंसेक्स (SENSEX) बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज या बीएसई पर एक इंडेक्स है। सेंसेक्स में 30 कंपनियां शामिल हैं, और इन्हें कंपनी की तरलता, बाजार पूंजीकरण, राजस्व और विविधीकरण के आधार पर चुना जाता है। साथ ही किसी कंपनी के सेंसेक्स पर होने के लिए उसका बीएसई पर लिस्ट होना जरूरी है।

निफ्टी क्या है? (Nifty)

निफ्टी नेशनल और FIFTY शब्दों का एक रूपांतर है। निफ्टी 50 भी एक बेंचमार्क इंडेक्स है, जिसमें नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध शीर्ष 50 स्टॉक शामिल हैं।

निफ्टी 50 में शामिल शीर्ष 50 स्टॉक 12 विभिन्न क्षेत्रों से होते हैं। इनमें से कुछ में वित्तीय सेवाएं, सूचना प्रौद्योगिकी, उपभोक्ता सामान, दूरसंचार,ऑटोमोबाइल आदि शामिल हैं।

शेयर मार्केट के प्रकार?

  1. Primary Market
  2. Secondary Market

प्राइमरी मार्केट / Primary Market

यहां पर सिर्फ नया Stocks अथवा Share का खरीददारी होता है। 

किसी नई या पुरानी कंपनी अगर अपना शेयर बेचना चाहे तो Primary Market पे अपना शेयर बेचता है। 

यहां पर खरीददारों को नया ताजा Stocks या शेयर खरीदने का मौका मिलता है। 

सेकेंडरी मार्केट / Secondary Market

जो Stocks या Share पहले से ही किसी और के द्वारा अतीत में खरीदा जा चुका है और वो अपना शेयर किसी और को बेचना चाहे तो वो Secondary Market पे बेचता है। 

यहां पर Second Hand Share बेचा या खरीदा जाता है भी बोल सकते हैं। 

अब तक आपको शेयर मार्केट की जानकारी मिल गया होगा अब आइये जानते है की शेयर कैसे खरीदते है?

शेयर कैसे खरीदते है? Share Kaise Kharide

अगर आप सोच रहे हैं कि भारत में ऑनलाइन शेयर बाजार में कैसे निवेश करें, तो हम आपको बताते है। आज कल बहत सारे मोबाइल ऍप्लिकेशन्स भी आ गए हैं जहां पर शेयर मार्केट में निवेश करना और भी आसान हो चुका है जो बिलकुल ऑनलाइन ओर सुरक्षित है। अपने घर पे बैठे हुए आराम से आसानी से स्टॉक खरीदने के लिए आपको जिन चरणों का पालन करने की आवश्यकता है, वे यहां दिए गए हैं –

  1. पैन कार्ड प्राप्त करें क्योंकि शेयर बाजारों में किसी भी व्यापार के लिए यह पहला कदम है। सरकारी नियमों के अनुसार, आपको कोई भी वित्तीय लेनदेन करने से पहले अपना पैन देना होगा।
  2. एक डीमैट अकाउंट और एक ट्रेडिंग अकाउंट खोलें – खरीदे या बेचे गए शेयरों की संख्या तदनुसार आपके डीमैट खाते में जमा या डेबिट की जाती है। और ट्रेडिंग अकाउंट का उपयोग शेयर बाजारों में शेयर खरीदने और बेचने के लिए किया जाता है।
  3. लेन-देन सुचारू रूप से करने के लिए अपने बैंक खाते को डीमैट खाते से लिंक करें।
  4. मोबाइल एप्लिकेशन या वेब प्लेटफॉर्म के माध्यम से डीमैट खाते में साइन इन करें।
  5. एक स्टॉक चुनें जिसमें आप निवेश करना चाहते हैं।
  6. स्टॉक को उसके सूचीबद्ध मूल्य पर खरीदें और यूनिट्स की संख्या निर्दिष्ट करें।
  7. एक बार जब कोई विक्रेता उस अनुरोध पर प्रतिक्रिया देता है, तो आपका खरीद आदेश निष्पादित हो जाएगा। लेन-देन पूरा होने के बाद, आपके बैंक खाते से आवश्यक राशि डेबिट हो जाएगी। साथ ही, आपको अपने डीमैट खाते में शेयर प्राप्त हो जायेंगे।

आप प्रत्यक्ष रूप से शेयर नही खरीद सकते। कंपनी और शेयर खरीददार में ये लेना देना करने के लिए बहत सारे मध्यस्ती होते हैं जिन्हे Stock Brokers कहा जाता है। 

लेकिन बिना जानकारी के शेयर मार्केट में निवेश करना सही नहीं है, अगर आप शेयर मार्केट में निवेश करना चाहते है तो हम सुझाव देते है की आप थोड़ा इसे सिख के अपना दांव आजमाएं और अगर आपको जानना है की शेयर मार्केट कैसे सीखे तो आप हमारा पोस्ट पढ़ सकते हैं।

शेयर मार्केट ब्रोकर का काम क्या है? Share Market Broker

Broker अथवा शेयर मार्केट का दलाल आपको Stock या Share खरीद और बिक्री करने में मदद करता है। Broker आमतौर पर खरीदारों को विक्रेता खोजने में मदद करते हैं और विक्रेता खरीदार खोजने में मदद करते हैं।  अधिकांश Broker आपको यह भी सलाह देंगे कि कौन से Stock को खरीदना है, कौन से स्टॉक को बेचना है और शुरुआती लोगों के लिए शेयर बाजारों में पैसा कैसे निवेश करना है। वे आपको शेयर बाजार में व्यापार करने में भी सहायता करेंगे। वो आपको सहायता करने के बदल आपसे Commission लेंगे। 

Online या फिर Offline आपको Broker मिल सकते हैं। 

शेयर मार्केट में फायदा क्या है

शेयर मार्केट विस्तार और विकास के लिए पूंजी जुटाने के लिए बहत सारी कंपनियों की सहायता करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। IPO के माध्यम से, कंपनियां जनता को शेयर जारी करती हैं और बदले में विभिन्न उद्देश्यों के लिए उपयोग किए जाने वाले धन प्राप्त करती हैं। कंपनी IPO के बाद Stock Exchange में सूचीबद्ध हो जाती है और इससे आम आदमी को भी कंपनी में निवेश करने का मौका मिलता है। इसके मदत से कंपनी की बिज्ञानपन भी हो जाता है और लोगों की नजर में आता है। 

किसी भी आम आदमी शेयर बाजार में व्यापारी या निवेशक हो सकता हैं।  व्यापारी थोड़े समय के लिए शेयर रखते हैं जबकि निवेशक लंबी अवधि के लिए शेयर रखते हैं।

शेयर मार्केट में जब मुनाफा होता है एक बड़े पैमाने पर मुनाफा होता है इस लिए शेयर मार्केट किसी भी साधारण आदमी का किस्मत बदल सकता है। 

शेयर मार्केट से पैसे कैसे कमाए? How To Earn From Share Market in Hindi

शेयर मार्केट में 3 तरीके से मुनाफा कमाया जा सकता है। 

  1. कंपनी जब बाजार में उन्नत प्रदर्शन करे और कंपनी का मुनाफा होता है तो आपकी शेयर के प्रतिशत के हिसाब से आपको भी मुनाफे का हिस्सा देता है। 
  2. आप जितने लंबे समय तक किसी कंपनी में शेयर रखेंगे, मुनाफा भी उतना ज्यादा मिलने की संभावना होती है। लंबे समय तक शेयर रखने से कभी भी आपका नुकसान नहीं होता। 
  3. कभी कभी ऐसा होता है की कोई कोई कंपनी दुगने या उससे ज्यादा पैसा दे कर Share Holders अपना ही शेयर वापस खरीद लेते हैं। ऐसे समय पर अगर आपका शेयर उस कंपनी में होगा तो आपको एक उच्च मुनाफा होगा। 

शेयर मार्केट में Trading और Investment के बीच क्या अंतर है?

हालाकी ट्रेडिंग (Trading) और इन्वेस्टमेंट(Investment) दोनो में पैसा लगाना पड़ता है। पर उन दोनो में भावार्थ का अंतर है। 

जब आप एक एक छोटे समय के लिए किसी कंपनी पैसे लगाते हैं उसे Trading कहा जाता है। Traders कम समय में पैसे की का एक मंथन करने के लिए किसी कंपनी में एक निर्थिस्ठ समय के लिए पैसा लगाते हैं।  

और जब आप एक लंबे समय तक किसी कंपनी में पैसा लगाते हैं उसे Investment कहा जाता है। एक Investor एक अच्छी बिकाशशील कंपनी में लंबे समय के लिए अपने पैसे लगाते हैं और शेयर की मूल्य आशानुरूप बुद्धि होने का प्रतीक्षा करते हैं। 

ट्रेडिंग के बारे में और बिस्तार में जानना है तो ये पोस्ट को पढ़िए – Trading Kya Hai?

FAQ

  1. शेयर बाजार का क्या अर्थ है?

    जहां पर बहत सारी कंपनी अपना शेयर अथवा स्टॉक बेचते हैं और निवेशक और व्यापारी शेयर का खरीदारी करते हैं उस जगह को शेयर बाजार कहा जाता है

  2. दुनिया का सबसे बड़ा शेयर बाजार कौन सा है?

    NewYork Stock Exchange दुनिया का सबसे बड़ा शेयर बाजार है

  3. Demat Account क्या होता है ?

    Demat Account एक साधारण Bank Account से अलग होता है जहां पर Share Bonds,Mutual Funds,ETF आदि जैसे प्रक्रिया किया जाता है।

  4. Share Market में Bull Market और Bear Market क्या होता है ?

    जहां पर Share की कीमत हमेशा बढ़ता रहता है उसे Bull Market कहते हैं और जहां पर Share हमेशा घटता रहता है उसे Bear Market कहते हैं। 

  5. भारत में किस कंपनी की Share मूल्य सबसे ज्यादा है ?

    MRF कंपनी की Share मूल्य भारत मैं सर्वोच्च है जो लगभग 80,000 रुपए एक Share की है। 

शेयर मार्केट क्या है और शेयर कैसे खरीदते है? – निष्कर्ष 

Share Market एक ऐसा जगह है जो एक व्यक्ति को करोड़पति भी बना सकता है और बर्बाद भी कर सकता है। इस लिए Share Market में जाने के लिए पहले अच्छी तालीम और ज्ञान जरूर लेना चाहिए और अपने बहुमूल्य पैसे को सोच समझ कर लगाना चाहिए। 

तो दोस्तों उम्मीद करते हैं की Share Market को अच्छी तरीके से समझने में हमारा ये Post “Share Market Kya Hai? और शेयर कैसे खरीदते है? What is Share Market in Hindi?” मददगार रहा। 

अगर Post पसंद आया तो Comments करके जरूर बताएं और अपने दोस्तों मैं Share करना ना भूलें धन्यवाद। 

thehindisagar

TheHindiSagar हिंदी सागर Blog आप के लिए हमेसा Best Content लाता है। हमारा लक्ष लोगों को सूचनात्मक कंटेंट के माध्यम से सूचित करना जिसे वो समझ सके। हम Technology से लेके मनोरंजन तक, Politics से ले कर Business तक, खेल से लेके नौकरी तक की सुचना सबकुछ की खबर आपके पास लाने की निरंतर प्रयास कर रहे हैं।

Related Posts

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x