मोटापा कम करने का रामबाण उपाय

आज हम इस लेख में मोटापा कम करने का रामबाण उपाय यह सब बताएंगे। यह लेख में मोटापा कम करने की विधि सभी वैज्ञानिक तरीके शामिल होंगे। तो आप भी अगर मोटापा का शिकार हुए हैं तो यह लेख आपके लिए अत्यंत उपादेय हो सकता है

कहते हैं जिसका वजन संतुलन नहीं है, उसका पूरी जीवन ही असंतुलित है। पहले की जमाने में सिर्फ बुजुर्गों या मध्य वयस्कों में ही अधिक शारीरिक वजन का समस्या हुआ करता था पर समय बीतते बीतते असंतुलित भोजन, असंतुलित जीवन चर्चा के कारण युवा पीढ़ी तथा काम उम्र के बच्चों तक भी यह वजन का समस्या या गया है। हाल ही में किए गए गवेषणा से पता चलता है की 

  • दुनिया की अधिकांश आबादी उन देशों में रहती है जहां अधिक वजन और मोटापा कम वजन वाले लोगों की तुलना में अधिक लोगों को मारता है।
  • 2020 में 5 साल से कम उम्र के 39 मिलियन बच्चे अधिक वजन वाले या मोटे थे।
  • 2016 में 5-19 आयु वर्ग के 340 मिलियन से अधिक बच्चे और किशोर अधिक वजन वाले या मोटे थे।

मोटापा का कारण क्या क्या है?

मोटापा का कारण क्या क्या है? Image

मोटापा का मुख्यतः 4 प्रमुख कारण हैं जिनके वारे में हम चर्चा करेंगे। 

  1. भोजन और गतिबिधी
  2. आनुवंशिकी
  3. स्वास्थ्य के स्थिति और दवाएं
  4. तनाव, भावनात्मक कारण और खराब नींद

1. भोजन और गतिबिधी

अधिक भोजन और काम सरिरिक गतिबिधी अत्यधिक वजन बढ़ने का एक मुख्य कारण है। अधिक कैलोरी वाले भोजन करके अगर उतने कैलोरी जलाने जितना गतिबिधी ना करें तो उस कैलोरी फैट के रूप में सरीर में जमा हो कर आपके सरीर का वजन बढ़ा देता है। 

2. आनुवंशिकी

यह एक चोका देने वाला तथ्य है की मोटापा जिन से भी प्रभावित होता है। Prader-Willi जैसे विकारों में जिन मोटापे का कारण बन सकता है।

3. स्वास्थ्य के स्थिति और दवाएं:

हमारे सरीर के कुछ हॉर्मोन्स जैसे की Underactive Thyroid, Cushing Syndrome,polycystic ovary syndrome आदि सरीर के अत्यधिक वजन बढ़ने का कारण बन सकते हैं। उसके साथ विभिन्न स्वास्थ्य समस्याएं के लिए हम जो दवाएं लेते हैं उनसे भी मोटापा का खतरा आ सकता है। 

4. तनाव, भावनात्मक कारण और खराब नींद

कुछ लोग बोर हो कर, क्रोधित हो कर, परेशान या तनावग्रस्थ होने पर अपने सामान्य आहार से अधिक खा लेते हैं जिसका प्रभाव प्रत्यक्ष रूप से उनके वजन पर पड़ता है। इसके साथ साथ यह बात भी जान लें की अगर आप जरूरत से काम नींद लेते हैं तो आप भी मोटापे का शिकार बन सकते हैं क्यूँ की नींद के दौरान निकालने वाले हॉर्मोन भूक और सरीर के ऊर्जा के उपयोग को नियंत्रण करने में मदद करता है। 

ये भी पढ़ें- कमर और पेट कम करने की एक्सरसाइज

हमारे सरीर को मोटापे का क्या खराव प्रभाव पड़ता है?

मोटापा हमारे सरीर के लिए अत्यंत हानी कारक है और मोटापे के कारण मधुमेह, उच्च रक्त चाप, हृदयरोग, स्ट्रोक, मेटाबोलिक सिन्ड्रोम आदि जैसे जानलेवा स्थिति आ सकती है।

मोटापा कम करने का रामबाण उपाय

मोटापा कम करने का रामबाण उपाय Image

निम्नलिखित दिए गए मोटापा कैसे कम करें, पेट की चर्बी,  टिप्स से आप अपने वजन कम कर सकते हैं और वजन को नियंत्रण कर सकते हैं

मोटापा कैसे कम करें, पेट की चर्बी

  1. रोजाना एक कप हल्का गर्म पानी पिएं। लगातार एक माह पीने से आपका कम से कम 2 किलो वजन कम हो जाएगा।
  2. रोजाना कपालभाति करें। 
  3. चीनी का सेवन बेहद कम कर दें। 
  4. खाने के बाद वज्रासन करें। 
  5. सप्ताह में एक बार व्रत रखें। 
  6. व्रत के समय फलों का सेवन करें।

1. आंतरायिक उपवास (intermittent fasting)

इस पद्धति के लिए आपको अपने भोजन के सेवन को बहुत ही विनियमित तरीके से नियंत्रित करने की आवश्यकता है।इस विधि में आपको बारी-बारी से खाना और उपवास करना होगा।यह विधि इस बात पर केंद्रित है कि आपको कब और कितना खाना चाहिए, न कि आपको क्या खाना चाहिए।आंतरायिक उपवास कई प्रकार के होते हैं।

  1. वैकल्पिक दिन उपवास- इस विधि में आप वैकल्पिक दिनों में खाते हैं और उपवास करते हैं। उपवास के दिनों में आप बहुत कम खाते हैं, शरीर को आवश्यक भोजन भी नहीं देते हैं और खाने के दिनों में आप सामान्य रूप से खाते हैं।
  2. 5:2 आहार विधि- इस तरीके से आप सप्ताह में 7 दिनों में से 2 दिन उपवास करते हैं और जिन दिनों आप उपवास नहीं कर रहे होते हैं, आप केवल 500-600 कैलोरी तक ही भोजन लेते हैं।
  3. 16/8 विधि- इस विधि से आप 16 दिन का उपवास रखते हैं और अगले 8 घंटे में खाने को मिलता है।

यदि आपने आंतरायिक उपवास अपनाने का विकल्प चुना है तो आपको कम कैलोरी वाला स्वस्थ भोजन खाना चाहिए और जिन दिनों आप उपवास नहीं कर रहे हैं, पर्याप्त और पौष्टिक स्वस्थ भोजन लें। ये मोटापा कम करने का रामबाण उपाय में से एक बेहतरीन उपाय हे

ये भी पढ़ें- कीटो आहार क्या है? Weight Loss Diet Plan

2. अपने आहार और व्यायाम पर ध्यान रखना

मोटापा कम करने का रामबाण उपाय में आपके द्वारा किए जा रहे प्रत्येक खाना को ट्रैक करने के लिए, आप जो खा रहे हैं उसकी एक दैनिक पत्रिका (journal) बनाए रखनी चाहिए। एक अध्ययन में पाया गया है कि अपने पेट कम करने की एक्सरसाइज शारीरिक व्यायाम पर नज़र रखने से आप अधिक Productive बनते हैं। समय की अवधि में अपनी प्रगति की जाँच करने से आपको वजन कम करने की कोशिश करते रहने की प्रेरणा मिलती है जो बदले में वास्तव में आपको वजन कम करने में मदद करती है।

3. पूरी एकाग्रता के साथ भोजन करना

एक अध्ययन में कहा गया है कि अगर हम एकाग्रता से खाते हैं तो हम भोजन को अधिक आसानी से पचा लेते हैं। लोग रोजमर्रा के काम करने में मन नहीं लगा रहे हैं। यहां तक ​​कि कुछ लोग टीवी या अपने स्मार्टफोन को देखकर खाते हैं जिससे पाचन कम हो जाता है और शरीर उचित पोषण को अवशोषित नहीं कर पाता है।

हम आपको आज यह संकल्प लेने की सलाह दे रहे हैं कि आप खाते समय टीवी या स्मार्टफोन नहीं देखेंगे। इसके अलावा कृपया हमसे वादा करें कि आप पूरी एकाग्रता के साथ भोजन करेंगे।

हर कोई सलाह देता है कि यह कैसे करना है और वह कैसे करना है। लेकिन आज हम आपको पालन करने के लिए practical steps देंगे। जिस के मदद से आप सरलता से वजन घटा पाएंगे।

Step-1: हमेशा एक ही जगह खाना खाएं और अपने फोन को दूर रखें। उसी समय आप टीवी चालू न करें।

Step-2: भोजन को 22 बार से अधिक चबाए बिना न खाएं। एक वैज्ञानिक अध्ययन से 22 बार चबाने की सलाह दी जाती है।

Step 3: जंक फूड से दूर रहें। हमेशा पोषक तत्वों से भरपूर खाना खाएं।

ये मोटापा कम करने का रामबाण उपाय मे से एक बेहतरीन उपाय हे

4. अपने प्रोटीन का सेवन बढ़ाएं

मोटापा कम करने का रामबाण उपाय कि एक अध्ययन में कहा गया है कि भारत प्रोटीन की कमी से जूझ रहा है। प्रोटीन की कमी से लोगों की मांसपेशियों की शक्ति कम हो जाती है। जब आप प्रोटीन खाते हैं तो शरीर में एक हार्मोन रिलीज होता है जो कुछ खाने के बाद हमें पेट भरा हुआ महसूस कराता है। इस भावना के कारण हम कम खाते हैं और वजन कम करते हैं। प्रोटीन न केवल वजन कम करता है बल्कि मांसपेशियों को विकसित करने में भी मदद करता है। अंडे, ओट्स, नट्स और बटर में उच्च मात्रा में प्रोटीन होता है।

5. चीनी और रिफाइंड कार्ब्स का सेवन कम करें

मोटापा कम करने का रामबाण उपाय में अधिक चीनी का सेवन मोटापे की ओर ले जाता है। processed कार्बोहाइड्रेट में कोई पोषक तत्व नहीं होते हैं। अत्यधिक process होने के बाद वे अपने सभी स्वस्थ पोषण खो देते हैं। कुछ संसाधित कार्बोहाइड्रेट के उदाहरण चावल, पास्ता और मैगी हैं। ये खाद्य पदार्थ बहुत जल्दी पच जाते हैं लेकिन वे ग्लूकोज में परिवर्तित हो जाते हैं और रक्त में मिल जाने के बाद यह इंसुलिन में वृद्धि करते हैं। उच्च इंसुलिन का अर्थ है उच्च चरबी।

6. बड़ी मात्रा में फाइबर खाएं

आहार में भरपूर मात्रा में फाइबर हमें भरा हुआ महसूस कराता है। संसाधित कार्बोहाइड्रेट के विपरीत इसे पचने में अधिक समय लगता है। फाइबर के कुछ उदाहरण फल, सब्जियां, मटर, दालें, नट और बीज हैं।

7. उचित मात्रा में नींद लें

गलत तरीके से सोने से पाचन क्रिया बाधित होती है और यह एक वैज्ञानिक तथ्य है। जब आप 5 या 6 घंटे से कम सोते हैं तो इस बात की बहुत अधिक संभावना होती है कि आप मोटापे से प्रभावित होंगे। हम आपको बिना सबूत के कोई सिफारिश नहीं देते हैं। इस तथ्य के पीछे का विज्ञान यह है कि जब आप शरीर को उचित नींद नहीं देते हैं तो पाचन धीमा हो जाता है जिससे पोषण का कम अवशोषण होता है। कम नींद लेने से भी इंसुलिन की मात्रा बढ़ती है। उच्च इंसुलिन शरीर में चरबी को जन्म देता है।

8. बहुत कम तनाव लेने की कोशिश करें

मोटापा कम करने का रामबाण उपाय में तनाव के कारण शरीर में एड्रेनालाईन का स्राव होता है। एड्रेनालाईन की रिहाई से मोटापा में वृद्धि होती है। जब लोग लगातार तनाव में होते हैं तो यह हार्मोन रक्त में लंबे समय तक मौजूद रहते हैं और यह शरीर को मोटापा से दूर नहीं होने देते हैं।

लेकिन घबराना नहीं। तनाव मुक्त करने में मदद करने के लिए हम यहां आपके साथ हैं। हमेशा की तरह हमारे पास आपके लिए आराम करने और अपने तनाव को दूर करने के लिए कुछ सुझाव हैं।

  1. हर एक दिन योग और ध्यान करें।
  2. सांस लेने की कुछ तकनीकें हैं जो हमें तनाव मुक्त करने में मदद करती हैं। उनका अभ्यास करें।
  3. घर के बाहर, खुले क्षेत्र में प्रतिदिन कुछ समय बिताएं। आप रोजाना थोड़ी सैर के लिए जा सकते हैं।

हम भगवान से प्रार्थना करते हैं कि वह आपको वजन की समस्या से लड़ने की शक्ति दें। हमारे द्वारा बताए गए दिशा निर्देशों मोटापा कम करने का रामबाण उपाय का पालन करें। निरंतरता सफलता की कुंजी है। इसलिए कभी भी उम्मीद न खोएं और कोशिश करते रहें। ऐसे जानकारीपूर्ण लेखों के लिए आप हमारी वेबसाइट को फॉलो कर सकते हैं। हम आपका शुभकामनाएं देते हैं।

ये भी पढ़ें- वजन घटाने का Diet Chart

 

यह लेख से आपने क्या सीखा?

उम्मीद है की यह लेख से आप मोटापे का कारण क्या है? मोटापा कैसे कम करें, पेट की चर्बी,और मोटापे से क्या क्या खराव प्रभाव पड़ता है, मोटापा कम करने की विधि जान गए होंगे और साथ ही साथ लेख में दिए गए वजन को काम करने की कुछ प्रभावशाली टिप्स भी आप जरूर आजमाएं। 

यह लेख मोटापा कम करने का रामबाण उपाय आपको कैसा लगा नीचे कमेंट्स करके जरूर बताएं और अपने दोस्तों तथा परिवारवर्गों में यह लेख को जरूर शेयर करें धन्यवाद। 

FAQ’s

तुरंत मोटापा कम कैसे करे?

अगर आप वाकई मोटापा कम करना चाहते हैं तो खाना खाने से पहले पानी पीना बहुत फायदेमंद होता है.अपने आहार और व्यायाम पर ध्यान रखना, एक अध्ययन में पाया गया है कि अपने पेट कम करने की एक्सरसाइज शारीरिक व्यायाम पर नज़र रखने से आप अधिक Productive बनते हैं। समय की अवधि में अपनी प्रगति की जाँच करने से आपको वजन कम करने की कोशिश करते रहने की प्रेरणा मिलती है

निकला हुआ पेट अंदर कैसे करें?

निकला हुआ पेट अंदर करने केलिए एक्सरसाइज करे

बर्पिस एक्सरसाइज (Burpee Exercise)
माउंटेन क्लाइंबर एक्सरसाइज(Mountain Climber Exercise)
तुर्कि गेटअप एक्सरसाइज (Turkish Get-Up Exercise)
मेडिसिन बॉल बर्पिस एक्सरसाइज (Medicine Ball Exercise)
स्प्रॉल एक्सरसाइज (Sprawls Exercise)
साइड टू साइड मेडिसिन बॉल स्लैम (Side to Side Medicine Ball Slam)
रूसी ट्विस्ट एक्सरसाइज (Russian Twist Exercise)
रोइंग मशीन एक्सरसाइज (Rowing Machine Exercise)
वेट लिफ्टिंग एक्सरसाइज (Weightlifting Exercise)
रनिंग एक्सरसाइज (Running Exercise)

पेट और कमर पतली कैसे करें?

पेट और कमर अंदर करने केलिए एक्सरसाइज करे
बर्पिस एक्सरसाइज (Burpee Exercise)
माउंटेन क्लाइंबर एक्सरसाइज(Mountain Climber Exercise)
तुर्कि गेटअप एक्सरसाइज (Turkish Get-Up Exercise)
मेडिसिन बॉल बर्पिस एक्सरसाइज (Medicine Ball Exercise)
स्प्रॉल एक्सरसाइज (Sprawls Exercise)
साइड टू साइड मेडिसिन बॉल स्लैम (Side to Side Medicine Ball Slam)
रूसी ट्विस्ट एक्सरसाइज (Russian Twist Exercise)
रोइंग मशीन एक्सरसाइज (Rowing Machine Exercise)
वेट लिफ्टिंग एक्सरसाइज (Weightlifting Exercise)
रनिंग एक्सरसाइज (Running Exercise)

क्या खाने से पेट बाहर निकलता है?

खाना खाने से पहले पानी पीना बहुत फायदेमंद होता है। क्योंकि यह खाने की लालसा को कम करता है और कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती है।

Leave a Comment