आयुष्मान कार्ड क्या है? आयुष्मान कार्ड मोबाइल से कैसे बनाएं?

आज हम आयुष्मान कार्ड से जुड़े विषय में जानकारी देंगे जिससे आप आयुष्मान कार्ड आसानी से घर बेठे अपने मोबाइल से बना सकतें है। इस विषय में आज आपको पूरी बातें विस्तार से बताई जायगी जिससे आप घर बेठे अपने मोबाइल से ही आयुष्मान कार्ड बना सकते है। उससे पहले आपको यह जानना जरुरी है की आयुष्मान कार्ड क्या है। इसके बारे में तो वैसे बहुत कम ही होंगे जो नही जानते होंगे, परन्तु आज भी कुछ लोग आयुष्मान कार्ड जैसी जरुरी चीजों के बारे में नही जानते. तो चलिए आज के इस विषय पर कुछ चर्चा करेंगे।

आयुष्मान कार्ड क्या है?

आयुष्मान कार्ड भारत की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना है इस कार्ड के माध्यम से आपको पांच लाख रुपय तक का मुफ्त इलाज मिल सकता है। यह सरकार की एक हेल्थ स्कीम है जिसके तहत सरकार आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड लोगों को प्रदान करती है। इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2018 में की थी। इस स्कीम के लिए भारत का कोई भी नागरिक आवेदन कर सकता है इसके लिए व्यक्ति की उम्र 18 साल या उसके ऊपर होना चाहिए. इस कार्ड के लिए ऑफलाइन या ऑनलाइन दोनों तरीके से आवेदन कर सकते है।

आयुष्मान कार्ड_Ayushman_Bharat_logo

आयुष्मान कार्ड मोबाइल से कैसे बनाएं?

पहले आयुष्मान कार्ड के कामो को करने के लिए CSC सेंटर जाना पड़ता था परन्तु अब ऑनलाइन के माध्यम से आयुष्मान कार्ड बना सकते है और इससे जुड़े सभी काम ऑनलाइन कर सकते है। तो चलिए आपको बताते है आयुष्मान कार्ड मोबाइल से कैसे बनाया जाता है:

  • सबसे पहले आप अपने मोबाइल में setu.pmjay.gov.in वेबसाइट में जाए आप यह साईट गूगल से ओपन कर सकते है।

 

  • वेबसाइट खुल जाने के बाद आपके सामने गूगल में जो पेज ओपन होगा उससे सबसे ऊपर वाले मिले गये रिजल्ट को ओपन करना होगा।

 

  • उसे ओपन करने के बाद आपके स्क्रीन में “Registration yourself & search Beneficiary” का आप्शन दिखेगा उसमे आप रजिस्टर पर क्लिक कर दें।

 

  • इसके बाद आप के सामने रजिस्ट्रेशन का पेज ओपन हो जायगा, इसमें आपसे आधार मोबाइल नंबर और आधार नंबर पूछा जायगा. आपको उस पर अपना आधार नंबर और आधार मोबाइल नंबर डालना होगा।

 

  • आधार नंबर और आधार मोबाइल नंबर डालने के बाद सबमिट पर क्लिक कर दें।

 

  • E-KYC Authantication का डिक्लेरेशन दें इस पर आप क्लिक करेंगे तो आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP भेजा जायगा जिसे आपको enter otp के बॉक्स पर otp डालना होगा।

 

  • OTP डालने के बाद velidate पर क्लिक कर दें KYC successfully वेरिफाइड हो जायगी उसके बाद ओके क्लिक करदें।

 

  • उसके बाद आपके स्क्रीन पर आपकी पर्सनल डिटेल्स आ जायगी जैसे आपका नाम,पता,लिंग,आदि।

 

  • निचे स्क्रॉल करेंगे तो आपको आपका कम्युनिकेशन एड्रेस भरना होगा अगर आपका कम्युनिकेशन एड्रेस वही है जैसा आधार कार्ड में है तो “please check this box” वाले बॉक्स में क्लिक कर दें।

 

  • इसके बाद निचे आपको एप्लीकेशन टाइप चॉइस करना है BIS 2.0 इसके बाद आपको रोल चॉइस करना होगा. इसमें आपको काफी सारे आप्शन मिल जायंगे, आप सेल्फ यूजर सेलेक्ट करेंगे।

 

  • आपकी login ID successful क्रिएट हो जायगी।

 

  • रजिस्ट्रेशन के बाद आपको “Do your ekyc & wait for approval” पर क्लिक करना होगा।

 

  • इसमें क्लिक करने के बाद आपको अपना मोबाइल नंबर डाल कर sign in पर क्लिक कर देना होगा, उसके बाद वेरीफाई पर क्लिक करें आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP आज्य्गा वह OTP डाल कर validate में क्लिक कर दें।

 

  • इसके बाद आप Portal में login हो जायंगे इससे आपको पहले beneficiary search करना होगा जिसके लिए आप state,block,village चुन लें।

 

  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक लिस्ट आयगी जिसमे उस गाँव या क्षेत्र के सभी लोगो के नाम होते है जिनका आयुष्मान कार्ड लिस्ट में नाम मौजूद है।

 

  • लिस्ट में आप अपना नाम लिख कर सर्च कर लें सर्च के बाद आपके नाम के आगे view बटन लिखा होगा उस पर क्लिक कर दें।

 

  • आधार कार्ड के माध्यम से अपना OTP वेरीफाई करना होगा जिसके बाद आप इस आयुष्मान कार्ड को डाउनलोड कर पाओगे।

आयुष्मान भारत का उद्देश्य:

ऐसे कई लोग होते है जो आर्थिक स्थति कमजोर होने के वजह से व्यक्ति अपने घर वालों का और अपना इलाज नही करा पाता है इस स्थति को सरकार नजर में रखते हुए यह स्कीम चालू किया। वैसे तो हर क्षेत्र में सरकारी हॉस्पिटल भी होते है परन्तु कई ऐसे इलाज होते है जिसे कोई महंगा ओपरेशन कराना होता है तो बहुत पैसे लगते है जिसे एक आम आदमी या गरीब इंसान नही कर पाता है। इस स्थति में अगर आयुष्मान कार्ड होता है तो वह 5 लाख के अंदर कोई भी इलाज आसानी से करा सकता है जिससे वह अपने गंभीर बिमारी का इलाज निः शुल्क करवा सकता है तथा एक अच्छा जीवन प्राप्त कर सकता है।

अस्पताल में कैसे मिलेगा लाभ:

मरीज को अस्पताल में भारती होने के बाद अपने आयुष्मान कार्ड का दस्तावेज देने होंगे, इसके आधार पर अस्पताल इलाज के खर्च के बारे में बिमा कम्पनी को सूचित कर देगा और बीमित व्यक्ति के दस्तवेजो की पुष्टि होते ही इलाज बिना पैसे दिए हो सकेगा। इस योजना के तहत मैटरनल हेल्थ और डिलीवरी की सुविधा, नवजात और बच्चो के स्वास्थ्य, किशोर स्वास्थ्य सुविधा, कोन्त्रसेप्तिव सुविधा और संक्रामक रोगों के प्रबंध की सुविधा,आँख,नाक,कान, और गले से सम्बन्धित बीमारी के इलाज के लिए अलग से यूनिट होगी, बुजुर्गो का इलाज भी करवाया जा सकेगा।

निष्कर्ष:

आयुष्मान कार्ड के बहुत से फायदे है और एक आम इंसान के लिए बहुत लाभदायक है। सरकार की इस योजना का लाभ उठाने का फायदा हर एक भारत वासी को मिल सकता है। अगर आप अब तक आयुष्मान कार्ड नही बनवाया है तो जल्द ही इस कार्ड को बनवा ले यह कार्ड कभी भी काम आ सकता है। सरकार की इस योजना का पूरा लाभ उठायें। इसी के साथ हमारा आज का यह लेख समाप्त होता है, आशा करते है आपने आयुष्मान कार्ड को ऑनलाइन बनवाने की पूरी जानकारी विस्तार से पढ़े होंगे।

ये भी पढ़ें –

 

FAQ:

आयुष्मान कार्ड कब लागू हुआ?

23 सितम्बर 2018

आयुष्मान कार्ड में कितने रूपये का insurance प्रदान किया जाता है?

500000 रुपय तक का।

आयुष्मान कार्ड ऑनलाइन बनाने के लिए कोंसी वेबसाइट में जाना होगा?

mera.pmjay.gov.in

Leave a Comment